कश्मीर के अलावा और क्या देख सकते है, जाने इन खूबसूरत वादियो को


कश्मीर के अलावा और क्या देख सकते है, जाने इन खूबसूरत वादियो को
कश्मीर के अलावा और क्या देख सकते है, जाने इन खूबसूरत वादियो को

कश्मीर और कश्मीर की वादियां किसी जन्नत सा लगता है. इनकी प्राकृतिक छठा को देखने के बाद आप भी यही कहेंगे की ये किसी स्वर्ग से कम नहीं. दोस्तों आज मैं कश्मीर की चर्चा नहीं करने वाला बल्कि कश्मीर से सटे आप पास के उन खूबसूरत जगहों के बारे में आप सब को बताने जा रहा वे अगर कश्मीर से अलग हो जाएँ तो कश्मीर की जैसे आन बाण उनसे अलग हो जाए और इन जगहों के बिना कश्मीर अधूरा हो जायेगा. तो चलिए दोस्तों आज के इस आर्टिकल ( कश्मीर के अलावा और क्या देख सकते है, जाने इन खूबसूरत वादियो को ) में बताएंगे कश्मीर से सटे कुछ ख़ास पर्यटन स्थलों के बारे में.

 

पहलगांव : Pahalgam

पहलगांव कश्मीर का सबसे खूबसूरत शांत एवं मनमोहक पर्यटन स्थल है. श्रीनगर से इसकी दूरी 94 किलोमीटर है. समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 2195 मीटर है. यह चारों और प्राकृतिक छटा बिखरी हुई है. यहां का मुख्य आकर्षण शेषनाग झील और लिद्दर नदी है. यहां से 16 किलोमीटर की दूरी पर चंदनवाड़ी स्थित है. जहां से अमरनाथ के लिए यात्रा आरंभ होती है.

pahalgam

 

सोनमर्ग : Sonmarg

सोनमर्ग को सोने की घाटी कहा जाता है. ऐसा माना जाता है कि इसका पानी अपने में सोना समेटे हुए है. जो सब कुछ सोने जैसा कर देता है. यह श्रीनगर से 81 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है तथा इसकी समुद्र तल से ऊंचाई 2740 मीटर है. श्रीनगर से लेह जाते हुए सोनमर्ग कश्मीर का अंतिम पड़ाव है. इसलिए इसे लद्दाख का प्रवेशद्वार भी कहा जाता है. कश्मीर के अन्य स्थानों की तरह यहां के पहाड़ भी बर्फ से ढके रहते हैं. यहां अक्टूबर से मार्च तक मौसम सुहावना होता है

Sonmarg

 

अमरनाथ गुफा : Amarnath Cave

अमरनाथ गुफा में बर्फ से बने प्राकृतिक शिवलिंग के दर्शन के लिए प्रतिवर्ष तीर्थयात्री भारत के कोने कोने से यहां आते हैं. कहा जाता है कि इसी गुफा में बैठकर भगवान शिव ने देवी पार्वती को सृष्टि संस्थापना एवं अमरत्व की वाणी सुनाई थी.

amarnath cave

 

यूसमर्ग : Yusmarg

कश्मीर के पश्चिम भाग में एक पर्वतीय स्थल है. यह श्रीनगर से 45 किलोमीटर की दूरी पर है. कश्मीर में यूसमर्ग का अर्थ है यूसु का मैदान. ऐसा माना जाता है कि ईसा मसीह अपने जीवन काल के दौरान कश्मीर में आकर यूसमर्ग में ठहरे थे. यहां देखने के लिए बर्फ से ढकी चोटियां और पाइन और फर के पेड़ों के झुरमुट है. रोमांचक पर्यटन के लिए यह स्थान एकदम उपयुक्त है

Yusmarg

 

गुलमर्ग : Gulmarg

गुलमर्ग विश्व में प्रसिद्ध हिल स्टेशनों में प्रमुख है. इसकी सुंदरता के कारण इसे धरती का स्वर्ग एवं भारत का स्विट्जरलैंड भी कहा जाता है. यह देश के प्रमुख हिल स्टेशन में से एक है. फूलों के प्रदेश के नाम से मशहूर यह स्थान बारामूला जिले में स्थित है. यहां के हरे भरे ढलान सैलानियों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं. श्रीनगर से 46 किलोमीटर दूर है तथा समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 2730 मीटर है. सोनमर्ग को यदि सोने की घाटी कहा जाता है तो गुलमर्ग फूलों की घाटी के रूप में मशहूर है. सर्दियों के मौसम में यहां स्कीइंग करने का अपना ही मजा है. यहां के गोल्फ कोर्स विश्व के सबसे ऊंचे एवं हरे-भरे गोल्फ कोर्स में से एक है.
गुलमर्ग की स्थापना अंग्रेजों ने सन 1927 में अपने शासनकाल के दौरान की थी. गुलमर्ग का वास्तविक नाम गौरीमर्ग था. जो यहां के चरवाहे ने इसे दिया था. 15 वी शताब्दी में कश्मीरी शासक यूसुफ शाह ने इसका नाम गुलमर्ग रखा. आज यह सिर्फ पहाड़ों का शहर ही नहीं बल्कि यह विश्व का सबसे बड़ा गोल्फ कोर्स और देश का प्रमुख स्कीइंग रिसोर्ट भी है.

gulmarg

 

खिलनमर्ग : Khilanmarg

गुलमर्ग के आंचल में बसी यह खूबसूरत घाटी है. यहां के हरे भरे मैदानों में जंगली फूलों का सौंदर्य देखते ही बनता है. खिलनमार्ग से बर्फ से ढके हिमालय और कश्मीर घाटी का अद्भुत नजारा देखा जा सकता है.

khilanmarg

 

अल्पआयर झील : Alpine Lake

चीड़ और देवदारों की पेड़ों से घिरी यह झील जफरात चोटी के नीचे स्थित है. इस खूबसूरत झील का पानी मध्य जून तक बर्फ ही बना रहता है.

alpine lake

 

निंगली नल्लाह : Ningli Nallah

गुलमर्ग से तकरीबन 8 किलोमीटर दूर निंगली नल्लाह एक धारा है जो जफरात की चोटी से पिघली बर्फ और अल्पआयर झील के पानी से बनती है. यह सफ़ेद धारा घाणी में गिरती है और अंत में झेलम नदी में मिल जाती है. घाटी के साथ बहती यह धारा गुलमर्ग का एक प्रसिद्ध पिकनिक स्थल है.

ningle nallah

 

बाबा रेशी की दरगाह : Baba Reshi Shrine

यह मुसलमानों का एक धार्मिक स्थल है. यह जियारत एक मशहूर मुस्लिम संत की याद में बनाई गई थी. जिनका इंतक़ाल 1480 में हुआ था. सन्यास लेने से पहले वे कश्मीर के राजा तीमा-उल-अविदित के दरबारी थे. यहां हर साल हजारों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं.

Baba-Reshi-Shrine

 

गोल्फ कोर्स : Golf Course Gurmerg

गुलमर्ग का गोल्फ कोर्स विश्व के सबसे बड़े और हरे भरे गोल्फ कोर्स में से एक है. अंग्रेज यहां अपनी छुट्टियां बिताने जाते थे. उन्होंने ही गोल्फ के शौकीन के लिए 1904 में इस गोल्फ कोर्स की स्थापना की थी. आजकल इसकी देखरेख जम्मू कश्मीर का पर्यटन विकास प्राधिकरण करता है.

Gulmarg-Golf-Course

 

स्किईंग : Skiing

स्किईंग में रुचि रखने वाले के लिए गुलमर्ग देश का नहीं बल्कि इसकी गिनती विश्व की सर्वोत्तम स्किईंग रिसोर्ट में की जाती है. दिसंबर में बर्फ गिरने के बाद यहाँ बड़ी संख्या में पर्यटक स्किईंग करने जाते हैं. यहाँ स्किईंग करने के लिए ढलानों पर स्किईंग करने का अनुभव होना चाहिए. जो लोग स्किईंग सीखना शुरु कर रहे हैं उनके लिए भी यह जगह बिल्कुल उपयुक्त है. यहां स्किईंग की सभी सुविधाएं और अच्छे प्रशिक्षक भी मौजूद है.

skiing srinagar

 

गोंडोला केबल कार गुलमर्ग : Gondola Cable Car Gurmarg

वेनेजुएला की मेरिडा केबल कार के बंद होने के बाद गुलमर्ग की गोंडोला केबल कार ही दुनिया की सबसे ऊंची केबल कार है. इस परियोजना के दूसरे चरण का उद्घाटन मई 2005 में हुआ था और इस परियोजना में लगभग 11 करोड रुपए लगे थे. इस प्रोजेक्ट में जम्मू कश्मीर सरकार के साथ फ्रांस की एक कंपनी को भी शामिल थी. यह केबल कार 5 किलोमीटर की दूरी तय करके आपको 13400 फुट की ऊंचाई तक ले जाती है. अभी तक ज्यादातर लोग यहां पर हेलीकॉप्टर से जाते थे.
गुलमर्ग से जफरात की पहाड़ियों तक का केबल कार से सफर लोगों को स्वर्गीय आनंद की अनुभूति देता है. इस में बैठकर सैलानी पीरपंजाल पर्वत श्रृंखला की सबसे ऊंची चोटी जफरात तक जाते हैं. जफरात की समुद्र तल से ऊंचाई 4390 मीटर है. इस में प्रतिदिन 5,000 से ज्यादा लोग सैर करते हैं. गंडाला केबल कार 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक ही चलती है. खराब मौसम की स्थिति में केबल कार के आवागमन को रोक दिया जाता है. एक गुंडाल कार में एक समय में 6 यात्री यात्रा कर सकते हैं.

gulmarg-gondola

 

कब जाएं कश्मीर और उससे सटे आस आप की जगहों पर

बरसात के मौसम को छोड़कर गुलमर्ग कभी भी आया जाया जा सकता है. गर्मियों के मौसम में यहां 29.5 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तथा 10.6 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहता है. सर्दियों में अधिकतम 7.5 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम 0 डिग्री सेल्सियस से कम होता है. सर्दी यहां हर समय रहती है. इसलिए आप जब भी श्रीनगर जाएं तो अपने साथ गर्म कपड़े जरूर ले जाएं.

kashmir ke aas paas ghumne ke ghumne ki jagah

Comments


log in

Don't have an account?
sign up

reset password

Back to
log in

sign up

Captcha!
Back to
log in