रहस्यमय भविष्यवक्ता मदर शिपटन !


रहस्यमय भविष्यवक्ता मदर शिपटन !
रहस्यमय भविष्यवक्ता मदर शिपटन !

रहस्यमय भविष्यवक्ता मदर शिपटन : Rahasyamy Bhavishyavakta Mother Shipton

इरिस लासाओथेल 1488 ई० में इंग्लैंड के यार्कशायर नगर में एक गरीब परिवार में जन्मी. जन्म के समय ही उसकी माता की मृत्यु हो गई तथा एक किसान स्त्री ने उसका पालन पोषण किया. जब यह लड़की उस किसान के घर में लाई गई तो उसके घर में अजीब घटनाएं घटित होने लगे. कुर्सिया तथा स्टूल स्वत: खिसकने लगे, प्लेटे हिलने लगी, कभी कभी घर वालों के लिए बना खाना ही गायब हो जाता.

कुछ सालों बाद यह घटना स्वयं बंद हो गई. जब वह लड़की कुछ बड़ी हो गई तो वह जड़ी बूटियों से बनी सरल दवा से लोगों के चिकित्सा करके उनके असाध्य रोग को दूर करने लगी. वह दवाओं आदि का कोई मूल्य नहीं लेती.

24 वर्ष की आयु हो जाने पर शिपटन नामक एक बढ़ई से उनकी शादी हो गई. परंतु शादी होते ही उनका पति मर गया. बाद में वह पति के नाम को धारण कर मदर शिपटन के नाम से संसार भर में प्रसिद्ध हो गई.

वह अपनी आध्यात्मिक शक्तियों से लोगों को भूत, भविष्य, वर्तमान की घटनाएं बताती तथा साथ ही साथ विभिन्न रोगों की चिकित्सा भी करती. दूर दूर से लोग उनके पास अपना भविष्य जानने के लिए आते तथा उनके द्वारा की गई भविष्यवाणियां सच निकलती.

एक दिन उनके घर एक अपरिचित व्यक्ति भेष बदलकर आया तथा दरवाजा खटखटाया. मदर शिपटन अंदर से बिना उसे देखे ही उसका नाम लेकर उस को आवाज दी. मुझको पता है, तुमको अमुक पादरी ने यह बात पूछने के भेजा है तथा तुम भेष बदल कर आए हो. पादरी द्वारा भेजा हुआ व्यक्ति बहुत आश्चर्य में पड़ गया. इस औरत को मेरा नाम तथा काम आदि के बारे में कैसे पता चल गया. मदर शिपटन उसको बताया कि यार्कशायर का अमुक गिरजाघर नष्ट हो जाएगा. कुछ सालों के बाद वह गिरजाघर वास्तव में गिर कर नष्ट हो गया.

मदर शिपटन अपनी भविष्यवाणी अंग्रेजी में कविताओं के रुप में किया करती थी. उन्होंने 400 साल पहले ही बता दिया था कि लंदन में प्लेग महामारी के रुप में फैलेगा तथा लंदन में एक भयानक आग लगेगी, जिससे बहुत नुकसान होगा तथा जान माल की अत्यधिक हानि होगी. उनकी यह भविष्यवाणी बिल्कुल सत्य निकली. उन्होंने बताया कि सैकड़ों वर्ष बाद लंदन में एक विशाल मकान बनाया जाएगा जो शीशे से बना होगा. लंदन का क्रिस्टल पैलेस आज भी इस भविष्वाणी की सत्यता का सबूत है. इतना ही नहीं उन्होंने आज से 600 साल पहले मोटर कार इंजन हवाई जहाज तथा रेडियो के अविष्कार होने का भविष्यवाणियां कर दी थी.

सन् 1587 में स्कॉटलैंड की रानी मेरी का सिर काटा जाएगा, जिसके लिडर लीवर ग्रामबेल होंगे तथा वहां गृह युद्ध होगा. उन्होंने एक बड़े देश अमेरिका की खोज के बारे में पहले ही बता दिया था. मदर शिपटन ने अपनी मृत्यु की भविष्वाणी पहले ही कर दी थी. वह 73 साल की आयु के बाद मृत्यु को प्राप्त हो जाएगी. यह भविष्यवाणी सच निकली, उन्होंने वास्तव में 73 साल की आयु प्राप्त की तथा सन् 1561 ई० में मृत्यु को प्राप्त हो गई. आज भी लाखों लोग हर वर्ष पहाड़ की गुफा में जहां मदर शिपटन ने अपना जीवन बिताया श्रद्धांजलि प्रकट करने जाते हैं.

Comments


log in

Don't have an account?
sign up

reset password

Back to
log in

sign up

Captcha!
Back to
log in