मुआवजे के बदले इन्हें मिली ट्रेन पढ़ें पूरी खबर !


मुआवजे के बदले इन्हें मिली ट्रेन पढ़ें पूरी खबर !
मुआवजे के बदले इन्हें मिली ट्रेन पढ़ें पूरी खबर !

किस्मत का खेल कोई नहीं जानता. कि कब किससे क्या ले ले और कब क्या दे दें. आज हम आपको एक ऐसी ही कहानी बता रहे हैं जिसके बारे में जान कर आपको काफी हैरानी भी होगी. क्योंकि ये सच्ची कहानी एक मिडिल क्लास किसान की (मुआवजे के बदले)है, लेकिन उस किसान को ये पता नहीं था कि वह कुछ ही समय में करोड़ों की संपत्ति का मालिक बनने वाला है. तकदीर का खेल तो देखिए किसान क्या से क्या हो गया. आइए जानते हैं पूरी खबर.

लुधियाना के 45 वर्ष के किसान की जमीन नॉर्दन रेलवे के द्वारा अधिग्रहण कर ली गई थी. जिसके विरोध में वो किसान कोर्ट तक गया. इस पर कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए कुछ ऐसा फैसला दिया कि पूरा देश अचंभे में रह गया. कोर्ट ने उस मिडिल क्लास किसान को अमृतसर से नई दिल्ली तक चलने वाली ट्रेन स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस मुआवजे के बदले उसके नाम कर दी. मतलब साफ है कि वह किसान अब स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस का मालिक बन गया.

बता दें कि जसपाल वर्मा के पीठ में बैठे इस सत्र में अभूतपूर्व फैसला सुनाया गया. इससे पहले कोर्ट के द्वारा ये आदेश दिया गया था कि नॉर्दर्न रेलवे किसान को उसकी जमीन के बदले 1.5 करोड़ रुपए मुआवजे के बदले दे, लेकिन साल भर बीत जाने के बाद भी जब रेलवे ने इस हर्जाने को नहीं चुकाया, तो कोर्ट ने पारिभाषिक रूप से स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन नंबर 12030 का मालिक किसान को बना दिया. इतना हीं नहीं, कोर्ट ने स्टेशन मास्टर को ये आदेश दिया कि इस ट्रेन का मालिक अब से किसान संपूर्ण सिंह होंगे.

बता दें कि नॉर्दन रेलवे ने कई लोगों की जमीन का अधिग्रहण किया हुआ है. क्योंकि इन जगहों पर रेलवे लाइन का विस्तार चल रहा है. जिसमें किसान संपूर्ण सिंह की जमीन भी है. जमीन का भाव प्रति एकड़ 25 से 50 लाख रुपए तक निर्धारित हुआ था, जिसमें संपूर्ण सिंह को 1.47 करोड़ रुपए रेलवे को देने थे. जिसमें से रेलवे ने 42 लाख रुपए हीं दिए. तब किसान ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. साल 2015 में कोर्ट के द्वारा ये आदेश दिया गया कि वह संपूर्ण सिंह कि बाकी राशि भी अदा कर दे, लेकिन रेलवे ने फिर भी पैसे नहीं दिए. ऐसे में कोर्ट ने संपूर्ण सिंह को एक ट्रेन हीं दे दी.

लेकिन अब सोचने वाली बात है कि इस 300 मीटर लंबी ट्रेन का संपूर्ण आखिर करेंगे क्या. वो उसे अपने घर ले जाएंगे तो कैसे. अब देखने वाली बात होगी कि अब इस केस में आगे क्या मोड आता है.

Comments


log in

Don't have an account?
sign up

reset password

Back to
log in

sign up

Captcha!
Back to
log in