अजब गजब : जिस को पढ़ कर आप हैरत में पड़ जायेंगे पार्ट – 4


अजब गजब : जिस को पढ़ कर आप हैरत में पड़ जायेंगे पार्ट - 4
अजब गजब : जिस को पढ़ कर आप हैरत में पड़ जायेंगे पार्ट - 4

 

दोस्तों आज के इस इस आर्टिकल ( अजब गजब : जिस को पढ़ कर आप हैरत में पड़ जायेंगे पार्ट – 4 )में अजब गजब से सम्बंधित अपनी इस सृंखला को आगे बढ़ाते हुए कुछ अजब गजब पहलुओं को पेश कर रहा हूँ. पिछली सृंखला से लोगों द्वारा दिए गए सराहनीय फीडबैक से हमें काफी अच्छा महसूस हो रहा ही. आप इसी तरह हमसे जुड़े रहे और अपनी राय शेयर जरूर करते रहें. तो चलिए आज जानते है इन तथ्यों से जुड़े अजब गजब जानकारियां.

 

सातों महाद्वीपों के नामों को अंग्रेजी में लिखे जाने पर उनका पहला और अंतिम अक्षर एक ही होता है.
दुनिया के सभी डाक टिकट पर उस देश का नाम अंकित रहता है. जहां से वह जारी होता है. केवल इंग्लैंड ही एक ऐसा देश है, जिसके टिकट पर उसका नाम नहीं छपा होता. ज्ञात हो कि विश्व में डाक टिकट का प्रचलन सबसे पहले इंग्लैंड से शुरू हुआ था.
विगत 130 वर्षों में विश्व की 15 इमारतों से उल्काएं टकरा चुकी है.
'डायनामाइट, बनाने में मूंगफली का प्रयोग किया जाता है.
एक छछूंदर एक रात में सौ गज लंबी सुरंग खोद सकता है.
बंदरों में सामाजिक भावना इस कदर प्रबल होती है, कि यदि एक बंदर बीमार हो जाता है, तो उस समूह के सभी बंदर खाना - पीना छोड़ देते हैं.
एल्बेट्रोस पक्षी पूरे दिन में एक बार भी बिना पंख फड़फड़ा उड़ सकता है.
भारत में चावल की कम से कम 80 किस्में उगाई जाती है.
मुर्गियां इंद्रधनुष के सभी रंगों को अलग-अलग पहचान सकती है.
पतंगे स्वयं कभी भी कपड़े नहीं काटते. उनका लार्वा ही कपड़ों को छति पहुंचाता है.
एक मनोवैज्ञानिक अध्ययन से यह निष्कर्ष निकलता है कि, पुरुषों के बारे में महिलाएं पुरुषों द्वारा महिलाओं के बारे में की जाने वाली बातों से 3 गुना ज्यादा बातें करती हैं.
अंटार्कटिक की चिड़ियां पेंगुइन उड़ तो नहीं सकती, लेकिन वो पानी में पनडुब्बी से भी ज्यादा तेज गति से तैर सकती है.
कछुओं के दांत नहीं होते.

vichitr anokha adbhut ajab gajab jis ko padh kar aap hairat me pad jayenge


Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

log in

reset password

Back to
log in