जानिये गंजापन का देसी घरेलु इलाज : गंजेपन का इलाज


जानिये गंजापन का देसी घरेलु इलाज : गंजेपन का इलाज
जानिये गंजापन का देसी घरेलु इलाज : गंजेपन का इलाज

जानिये गंजापन का देसी घरेलु इलाज, गंजेपन का इलाज : Jaaniye Ganjapan Ka Desi Gharelu Ilaj, Ganjepan Ka Ilaj

गंजापन का देशी घरेलू इलाज  : सर के उपर घनेदार बाल ना तो सिर्फ़ मर्दानगी की निशानी है, यह यौवन का संकेत है. मगर बढ़ती उमर के कारण या लाइफस्टाइल ठीक ना होने के कारण, स्ट्रेस के कारण या वंश परंपरागत के कारण गंजेपन का आगमन होता है और, अगर इस को ध्यान में ना ले तो आगे जा के आप धीरे धीरे गंजे हो जाते है. गंजापन ना हो उस के पहले ही सावधान हो जाए मगर अपने लाइफ में बहुत बिज़ी होने के कारण अगर आप ने सही समय पर कदम नहीं उठाए और गंजापन छाने लगा है तो इस के लिए भी उपाय है.

 

गंजेपन का कारण और प्रकार : Ganjepan Ka Kaaran Aur Prakar

बालो का जादू यह है की जड़ में से जो बाल उगता है उस में जीव नहीं होता है. एक बाल थोड़े समय तक रहता है (लगभग 90 दिन) और फिर गिर जाता है. अब जड़ में से दूसरा बाल पैदा हो के उग निकलता है. बाल झड़ने के और नये बालो के बनने के प्रक्रिया में टाइम लगता है. अगर यह समय ज़्यादा लंबा हो जाए तो गंजापन प्रगट होता है.

नये बाल ना उगने के कई कारण होते है. गंजापन आने का कारण एक यह है की आदमियो में टेस्टॉस्टरोन लेवेल बढ़ जाए तो वो नये बालो को उगने से रोकता है या विलंब होता है. अगर किसी ने कीमोथेरेपी लिया है तो बाल झाड़ जाएँगे और नये बाल बहुत धीमे से उग निकलेंगे. स्कॅल्प में ब्लड सर्क्युलेशन सही नहीं है और आहार में विटामिन और आइरन की कमी होने पर गंजापन हो जाता है. बाल को ठीक से सॉफ ना करना, सेबोर्रहोइक डर्मेटाइटिस का बढ़ना, ज़्यादा समय धूप में बीतना, स्कॅल्प में सीबम यानि तैलीय पदार्थ का बढ़ जाना, सभी नये बालो को उत्पन्न होने से रोकते है और गंजापन फैल जाता है अपने सर पर. इन के उपाय हो सकते है.

जिनको जेनेटिकली गंजापन होने की शिकायत है बढ़ती उमर में, उन के लिए शायद मुश्किल है नये बाल उगाना. गंजापन को अलग क्लासीफाय (वर्गीकृत) करते है जैसे की टट्रैक्शन एलोपेसिया, ट्रिचोटिल्लोमेनिया,मेल पैटर्न, फीमेल पैटर्न एलोपेसिया और इन्वोलुशनल एलोपेसिया.

 

आधुनिक उपाय गंजेपन के लिए : Adhunik Upay Ganjepan Ke Liye

  • साइन्स और टेक्नालजी इतना एडवांस हो गया है की आप के गंजेपन को दूर करने में सहायता कर सकते है.
  • मिनोक्सिडिल फार्मूलेशन लगाने से बालो का झड़ना रुक जाता है और नये बाल पैदा होते है.
  • फिनास्टेरीड एक दूसरा औषध है जिस के सेवन से बाल झड़ने से रुक जाते है और गंजापन बढ़ता नहीं है. फिनास्टेरीड की गोली के साथ रोज दिन में दो बार बालो में मिनोक्सिडिल का मालिश करना चाहिए. इस का ड्राबैक ( कमी या खामिया ) यह है की अगर आप ने यह ट्रीटमेंट बंद कर दिया तो बाल झड़ने लगते है.
  • एक दूसरा टेक्नोलॉजिकल उपाय है हेयर ट्रांसप्लांटेशन तकनीक. शरीर के दूसरे भाग से बाल को जड़ से उखाड़ के जहाँ पर गंजापन है वहाँ पर, जैसे पौधे बोए जाते है उसी तरह बालो को बोए जाते है. यह प्रोसेस धीमा है और महँगा है. धीरज रखे और बाल उगाने के घरेलू उपाय के इस आर्टिकल को अच्छाे से पढ़े. गंजापन का घरेलू इलाज (गंजेपन का इलाज) बहुत ही असरकारक है और इस से बाल पर्मनेंट्ली बरकरार रहेंगे.
READ  मोजे पहन कर सोने के हैं ये अचूक फायदे!

 

गंजेपन को दूर करने के लिए जो सामग्री चाहिए वो ज्यादातर आप के घर में ही होंगे. आप को कोई खास एफर्ट भी नहीं करना है. बालो का गंजापन दूर करने के लिए इन में सो कोई एक या तो सभी या जिनते हो सके उपचार का प्रयोग करे.

 

गंजेपन का करें पक्का इलाज इन असरदार आसान घरेलू नुस्खे से : Gajnepan Ka Karen Pakka Ilaj

यह भी पढ़े : महिलाओ मे गंजापन दूर करने के उपाय

प्याज : प्याज एक एक बेहतरीन और प्रमाणित उपाय है गंजापन दूर करने के लिए.

  • प्याज को काट के इस को बलेंडर में पानी डाल के घुमाए. बर्तन में अलग कर के और पानी डाले.
  • इस मिश्रण को एक घंटे तक रहने दे. पानी उपर और प्प्याज निचे बैठ जाएँगे.
  • इस पानी को अलग से छान ले और फ्रिज में रखे.
  • रोज अपने बालो को इस पानी में भिगो दे और एक घंटे तक रखे और बाद में धोए.
  • अगर प्याज का पेस्ट बनाना मुश्किल है तो प्याज को स्लाइस करके टुकड़े को बालो के जड़ो में प्रेशर दे के दबाए ताकि इस का रस बालो में उतर जाए.

 

दही और कपूर

दही को 2-3 दिन के लिए बाहर रहने दे और जब बिल्कुल खट्टा हो जाए तब इस में कपूर मिला ले और बालो में जहाँ पर गंजापन हो गया है वहाँ अच्छाी तरह र मालिश करे. 3 महीने तक अगर ऐसा करने से आप देखेंगे की बाल उगने लगते है.

 

अरंडी का तेल

अरंडी का तेल को तोड़ा सा गरम करे. इस गरम तेल में उंगली डुबोये और जहाँ पर गंजापन है वहाँ पर अची तरह उंगली से घिसे. लगातार 10-15 मिनिट्स तक घिसने का प्रैक्टिस डाले और 4 दिन तक लगातार करे. 3 दिन के लिए रहने दे. 6 महीने में आप को काफ़ी फर्क नज़र आएगा.

READ  अपच : भोजन पचाने के 4 आसान घरेलू उपचार.

 

अरंडी का तेल, लहसुन और अदरख मिला के

लहसुन और अदरख में ऐसे तत्व है जो ब्लड सर्क्युलेशन इंप्रूव करेंगे और बालो को नित नया जीवन प्रदान करेंगे. आप चाहे तो लहसुन और अदरख का पेस्ट बना ले और अरंडी के तेल में डाल के धीमे आँच पर गरम करे. इस तेल में ब्राहमी और भरिंगराज का रस डाले तो और भी अच्छाा. अमला का रस भी इस के गुण बढ़ाएगा. जतामंसी का रस भी आप मिला ले. तेल में से पानी उड़ जाए तब ठंडा करे और छान ले. इस हेयर आयल को हर दूसरे दिन बालो में अच्छाी तरह कस के मालिश करे और एक घंटे के बाद धो ले.

 

सेब का सिरका (एप्पल साइडर विनेगर)

कहते है की सेब का सिरका बालो का गंजापन हटा देता है. एक चम्मच सेब के सिरके को आधे कप पानी में मिला के बालो में अच्छाी तरह रगड़ दे.

 

नारियल तेल में मेथी

मेथी के दानो में गंजापन दूर करने का अद्भुत गुण है. रात को मेथी दाने भिंगोये और सवेरे इस का पेस्ट बना के बालो में अच्छाी तरह मल दे. दूसरा तरीका है मेथी दाने का पाउडर बनाए या तैयार ले और इस को भिगो दे और फिर नारियल तेल में डाल के हल्के आँच पर उबाले. जब पानी उड़ जाए, छान ले. यह तेल अच्छाी तरह बालो के जड़ में रगड़ रगड़ कर मालिश करे. सप्ताह में 3 दिन उपयोग करे 3 महीनो तक तो रिज़ल्ट दिख आएगा. यह एक गंजापन का देशी इलाज हैआप आवश्य ट्राइ करे.

 

अंडे का पीला भाग

अंडे का सफड़ भाग बालो में चमक लाने में उपयोगी है. मगर गंजापन का घरेलू इलाज अंडे का पीला हिस्सा है. इसमें नारियल तेल और थोड़ा सा नींबू का रस मिला के अच्छी तरह से मिलाए और यह मिश्रण हमेशा ताज़ा ही बना के उपयोग करे. अब इसे बालो में घिस घिस के मालिश करे. एक घंटे के बाद धो ले.

 

हरा धनिया (कोरिनडर)

अंडे का स्मेल सभी को अच्छा नहीं लगता है. धनिया की खुशबु सभी को पसंद है. हरा धनिया बालो को उगाने में हेल्पफुल है. हरे धनिए की चट्नी रोज सेवन करे और साथ में हरे धनिया का पेस्ट बालो में रगड़ कर घिस दे.

 

यष्टिमधु

यष्टिमधु में ऐसा तत्व है जो गंजापन का इलाज घर में ही कर देंगे. यष्टिमधु का पाउडर ले, दूध में इस का पेस्ट बनाए. केसर भी इस में शामिल करे. थोड़ा सा शहद और नारियल तेल मिला दे और इस मिश्रण को बालो में जम कर रगड़ दे. एक घंटे के बाद धो ले.

READ  मोटापे को तेजी से कम करना चाहते हैं तो अपनाए चिया सीड

 

केला

केला एक ऐसा टेस्टी फ्रूट है जो एक खाए तो दूसरा खाने की इच्छा हो जाती है. एक केला आवश्य बचा के रखे और इस का पेस्ट बनाए. इस में शहद और नींबू का रस मिला के बालो के जड़ो में लेप करे तो गंजापन दूर हट जाएगा.

 

उरद दल

साबुत उरद या उरद दाल को भिगो दे और इस का पेस्ट बना के बालो के जड़ो में लगाए. यह गंजापन का घरेलू इलाज असरकारक है.

 

अनार की पत्ती

अनार की पत्ती का पेस्ट बना के बालो में लगाए. बालो का गंजापन हट जाएगा.

 

याद रहे: 2 महीनो में आप को फर्क दिखना चाहिए कोई भी प्रयोग में. अगर फायदा ना हुआ तो दूसरा प्रयोग कर के देखे.

 

डाइट और लाइफस्टाइल भी इंपॉर्टेंट है. खाने में हरी सब्जी, फल और दाल का भरपूर इस्तेमाल करे. कॉफी, आल्कोहॉल और तंबाकू से दूर रहे. टेन्षन से भी बचे रहे. रोज रात को सोने से पहले बालो में कंघी या ब्रश घुमाए. दिन में 2-3 बार कंघी करने से और भी लाभ होगा. भोजनआदि मसालेदार ना हो और गरम भी ना खाए. बालो में उपर बताए गये तेल में विटामिन ब और विटामिन ए भी डाल के प्रयोग कर के देखे. खुराक में भी यह विटामिन और साथ में आइरन मिलना ज़रूरी है. शरीर को कॉपर भी मिलना चाहिए जो फल और सब्जी में है. तांबे के बर्तन में पानी रात भर रखे और सवेरे 3 ग्लास पी ले. अनपॉलिश्ड राइस ख़ास कर के खाए. इस में और आम में सिलिका मिलेगा जो गंजापन के लिए उपयोगी है. ज़िंक भी इतना ही ज़रूरी है को आप को अंजीर और आलू में से मिलेगा. लंबे समय तक पघड़ी या टोपी ना पहें रखे और धूप में भी खुले सर ना रहे लम्बेसमय तक.

यह सभी उपाय तब काम करते है जब गंजापन का शुरुआत है. अगर 5-6 साल से उपर से आप गंजा हो गये है तो लगभग यह घरेलू नुस्खे गंजापन के लिए शायद काम ना भी करे.

 

यह है गंजापन का देशी इलाज , अगर आप का हेयरलाइन रिसीड होने लगा है इस का मतलब है की गंजापन शुरू हुआ है. आज ही घर में ट्रीट्मेंट्स शुरू कर दे तो आगे जा के गंजापन से बच जाएँगे.


Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

log in

reset password

Back to
log in