पेशाब का रंग से अपने स्वास्थ्य के बारे में जानिए !


पेशाब का रंग से अपने स्वास्थ्य के बारे में जानिए !
पेशाब का रंग से अपने स्वास्थ्य के बारे में जानिए !

दोतों, आज हम बात करेंगे पेशाब के रंग से अपने स्वास्थ्य के बारे में कैसे जानकारी प्राप्त करें. अपने पेशाब के रंग से आप अपने शरीर के संकेतों को जान सकते हैं. क्या आपका शरीर कैसे स्वस्थ लेवल पर है. तो चलिए आज हम आपको बताते हैं, शारीरिक संकेतों के बारे में.

अपने पेशाब के रंग से आप पता लगा पाएंगे आपका शरीर कितना स्वस्थ है या आप कितने बीमार हैं. दोस्तों जहां इस पोस्ट में हम आपको आज बताएंगे पेशाब के रंग के जरिए आपके शरीर का स्वास्थ्य लेवल इसलिए पता पड़ जाता है, क्योंकि सारी बीमारी पेट से होती हैं. और आपने भी देखा होगा कि जब आप स्वस्थ होते हैं तो आपके पेशाब का रंग बदल जाता है.

आगे हम जो आपको बता रहे हैं दोस्तों यह तय कर सकता है की, आपको क्या करना है. यूरिन इंफेक्शन को रोकने के लिए आप जरूर पढ़े हमारा आर्टिकल.

वैसे तो मानव शरीर में प्रत्येक अंग महत्वपूर्ण है, लेकिन सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण हमारे लिए गुर्दे का है. क्योंकि गुर्दा हमारे शरीर से गंदगी को साफ करने में अहम भूमिका निभाता है और अगर जरा सी गड़बड़ी होती है तो हमें पेशाब के रंग के जरिए पता चल जाता है, क्योंकि पेशाब रंग बदलना आपके शरीर के अंदर रोग के जन्म लेने के संकेत होते हैं.

पेशाब का रंग हल्का पीला होना : Peshab ka rang halka pila hona

अगर आप के मुत्र का रंग हल्का पीलेपन पर है या फिर बिल्कुल पानी की तरह साफ है, इसका मतलब है की, आपके शरीर का प्रत्येक अंग भली भांति कार्य कर रहा है और आपको चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है.

पेशाब का रंग पीला होना : Peshab ka rang pila hona

अगर आपकी यूरिन का रंग पीले रंग का है, इसका मतलब है कि आपके शरीर में पानी की कमी हो चुकी है. दोस्तों, अगर आप पानी कम पीते हैं तो, पहले से अधिक मात्रा में पानी पीना चालू कर दें. यह अपने आप अपने सामान्य रंग में बदल जाता है.

पेशाब का रंग गाढ़ा पीला होना : Peshab ka rang gadha pila hona

यदि आपके यूरिन का रंग एकदम से गाढ़ा और पीलेपन पर है तो यह अच्छे संकेत नहीं है. इसका मतलब है, आपका लिवर सही तरीके से काम नहीं कर रहा है और आपको लीवर की या फिर हेपेटाइटिस की प्रॉब्लम हो सकती हैं.

Also read : सेहत की छोटी-छोटी परेशानी हो सकती है कैंसर की निशानी!

पेशाब का रंग दूधिया सफेद : Peshab ka rang dudhia safed

अगर आप का पेशाब दूधिया सफेद रंग का है तो इसका मतलब है कि आप के पेशाब में बैक्टीरिया बन चुके हैं. क्योंकि ऐसा तब होता है, जब आप के मूत्रमार्ग के रास्ते में संक्रमण पैदा हो जाए या फिर आपकी गुर्दे यानि की किडनी में पथरी बनने लगती है. इस तरह के संकेत आने पर आप डॉक्टर से एक बार जरूर जांच करवाएं.

पेशाब का रंग लाल हल्का गुलाबी होना : Peshab ka rang lal halka gulabi

आपकी यूरिन का रंग हल्का गुलाबी या फिर लाल इसलिए भी हो सकता है कि आपने चुकंदर या स्ट्रॉबेरी खाया होगा अगर यह सब खाया है तो इस पोस्ट पर ध्यान ना देना. लेकिन आप अगर सामान्य तौर पर इस तरह का पेशाब करते हैं, यानि कि आप खाना नॉर्मल खाए हुए हैं, कोई ऐसी चीज नहीं खाए हैं और तब आपको अगर आता है तो आपको पेशाब में लाल रंग का खून भी हो सकता है. तो यह बेहद चिंताजनक होगा, इसको डॉक्टर को तुरंत दिखाएं. ऐसा अधिकतर तब देखा जाता है या तो कुछ लोग जब अपने शरीर की क्षमता से अधिक व्यायाम करते हैं उनके शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं टूट जाते हैं और उनके पेशाब के रास्ते से पेशाब में मिक्स हो करके ब्लड आने लगता है.

यह गुलाबी रंग का या लाल रंग का यूरिन आना शुरू हो जाता है या फिर यह किसी अन्य बीमारी का संकेत हो सकता है. दोस्तों, इसीलिए इसे डॉक्टर को जरुर दिखाए. हाँ नोट याद रखेंगे अगर आपने चुकंदर या स्ट्रोबेरी खाया है, तब ये एक सामान्य बात है.

Also read : पेशाब रोकने के इस फायदे को जानकर हैरान हो जाएंगे

नारंगी रंग का यूरिन आना है : Narangi rang ka urin aana

दोस्तों कई बार ऐसा होता है, आप जब कई बार दवा खाते हैं तो यह नारंगी रंग पैदा कर सकती हैं. विशेषकर यूरिन से जुड़ी समस्याओं को सही करने के लिए कुछ ऐसी दवाएं होती हैं, जब की पेशाब का रंग नारंगी रंग में बदल जाता है. और इसके अलावा कुछ लोगों को गाजर खाने से भी यह गाजर के रस जैसा यानी कि पानी में मिक्स गाजर के रस जैसा यूरिन आता है, तो उस कंडीशन में आपको बहुत ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है.

नीला या हरा यूरिन आना : Nila ya hra urin aana

कई बार जैसा की आपने पहले पढ़ा दोस्तों, पेशाब संबंधी समस्याओं को कम करने के लिए जो दवाइयां बनाई जाती हैं उनमे विशेष डाई का इस्तेमाल होता है. जिसकी वजह से भी आपके पेशाब का रंग हल्का नीला या हरे रंग में बदल जाता है. अगर आपने इस तरह की कोई दवाई पी है या खाई है तो चिंता करने की बात नहीं है. क्योंकि ऐसा होना स्वाभाविक है या फिर आपने कुछ ऐसा खाना खाया हो जिसमें आर्टिफिशियल रंग का इस्तेमाल किया गया हो, तब भी आपके पेशाब का रंग नीला या हरा हो सकता है. और अगर इन दोनों में से कोई कारनामा आपने नहीं किया यानि की आपने ऐसा कुछ नहीं खाया है और तब आपको अगर ऐसे रंग की यूरिन आती है तक चिकित्सक से अवश्य परामर्श लें.

तो देखा दोस्तों, हमलोग अपने यूरिन के द्वारा कैसे अंदाजा लगा सकते हैं कि हमें किस प्रकार की प्रॉब्लम हुई है. अगली बार हम आप सभी से जुड़ेंगे कुछ और महत्वपूर्ण जानकारियों को लेकर के. तब तक के लिए धन्यवाद्.


log in

reset password

Back to
log in