औरतों की योनि कितनी गहरी और चौड़ी होती है ?


औरतों की योनि कितनी गहरी और चौड़ी होती है ?

औरतों की योनि कितनी गहरी और चौड़ी होती है : Aurton ki yoni kitni gahri aur chouri hoti hai

दोस्तों हम आजकल अपनी इस कड़ी में यानी कि आजकल के अंको में बात कर रहे हैं सेक्स संबंधित समस्याओं के बारे में. सेक्स संबंधित समस्याएं बहुत ही कॉमन है. ये सभी को होते हैं एक न एक उम्र पर. पर कुछ लोगों के पास अनुभवी लोग होते हैं, जिनसे इस बारे में जान लेते हैं या कुछ लोग पढ़ाकू होते हैं, वह बुक्स को पढ़ कर के अपनी समस्याओं को जान लेते हैं या डॉक्टरी परामर्श ले लेते हैं. पर बहुत सारे लोग हमारे समाज में ऐसे भी है, जो कि हर किसी से अपनी समस्या को बांटना नहीं चाहते हैं. यानि की उन को शर्म आती है खास करके सेक्स संबंधी समस्याओं पर वो किसी से बात नहीं कर पाते हैं. सेक्स ऑन रिलेशनशिप्स पर इसी को दूर करने के लिए या फिर उनके साथी बनने के लिए हमने ये कड़ी स्टार्ट की, ताकि उनकी समस्याओं का समाधान हो सके.

दोस्तों, हमारे कुछ पाठकों का सवाल है कि औसतन स्त्री की योनि की गहराई और व्यास कितना होता है? क्या कई बच्चों की मां की योनि की गहराई अधिक हो जाती है?

प्रिय पाठकों, सर्वप्रथम तो आप यह समझ लें की योनि की गहराई कहां से और किस प्रकार नापी जाती है. योनि के आगे भाग को भग कहते हैं जिसमें लघु और बृहद भगोष्ठ होते हैं.

लघु भगोष्ठ अंदर उस स्थान से प्रारंभ होते हैं जहां कुमार छिद्र होता है. इस स्थान से भग के बाहरी छोड़ तक अर्थात लघु भगोष्ठों के छोड़ तक के भाग को प्रायः योनि कीप कहा जाता है. क्योंकि इस भाग की रचना कुछ कुछ कीप जैसी होती है. अर्थात बाहर से चौड़ी, अंदर से संकरी. वास्तविक योनि कुमार छिद्र के स्थान में गर्भाशय ग्रीवा तक होती है.

योनि के अगले भाग अर्थात कीप की लंबाई देढ से लेकर दो इंच तथा वास्तविक योनि की लंबाई तीन से लेकर साढ़े तीन इंच तक होती है. इस प्रकार संपूर्ण योनि मार्ग की लंबाई या गहराई पाँच से साढ़े पाँच इंच तक हो जाती है और यही लंबाई औसत पुरुष के शिश्न की होती है. संभोग करने पर आवश्यकतानुसार बिना किसी कठिनाई और पीड़ा के यह आसानी से फैल जाती है.

योनि के ऊपरी सिरे कि सामान्य चौड़ाई दो से ढाई इंच तक होती है. जिन स्त्रियों के अधिक बच्चे होते हैं उनका गर्भाशय नीचे वस्ति में झुक जाता है, जिससे योनि की गहराई कम हो जाते हैं. संभवतः यह गहराई ढाई या तीन से अधिक नहीं होती, चुकी योनि की दीवारें लचीली होती हैं इसीलिए संभोग में कोई बाधा नहीं होती है.

तो देखा दोस्तों आज आपने कि किस प्रकार से सेक्स संबंधी समस्याओं पर हम बात करना नहीं पसंद करते हैं. किसी अन्य से लेकिन फिर भी हम आपकी समस्याओं का समाधान के लिए ये एक नया तरीका लेकर के आए हैं. अगर आपके मन में भी क्वेश्चन है सेक्स से संबंधित तो आप हमें लिख भेजिए, हम आप सभी की समस्याओं का समाधान बताने की कोशिश करेंगे और हमारी ये कड़ी कैसी लगी आप जरूर हमें बताइए. हम आप सभी से जरुर मिलेंगे अगले अंक में तब तक के लिए धन्यवाद्.

Related Post :

 


Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

log in

reset password

Back to
log in