जब अचानक आ जाए मेहमान तो, ना हों परेशान


जब अचानक आ जाए मेहमान तो, ना हों परेशान
जब अचानक आ जाए मेहमान तो, ना हों परेशान

भारतीय सभ्यता में “अतिथि देवो भव:” अर्थात अतिथि भगवान का स्वरूप होता है भारतीय घरों में अतिथि को सम्मानपूर्वक भोजन कराना हमारी परंपरा है। जिस घर में प्राय: अतिथियों का आगमन रहता हो, वह घर स्वर्ग तुल्य माना जाता है। प्राचीन समय में लोग, अचानक अतिथि के आ जाने पर परेशान होने की अपेक्षा खुश होकर, उसे अपना सौभाग्य मानते थे, किंतु आज की भागती जिंदगी तथा आधुनिक सभ्यता ने” अतिथि देवो भव:” की संस्कृति को लुप्त प्राय: सा बना दिया है। ज्यादातर घरों में लोग यह सोचते हैं कि, महंगाई के जमाने में यदि अतिथि न आएं तो अच्छा ही है, लेकिन अचानक जब मेहमान आ जाएं, तो घर की महिलाएं भोजन, नाश्ते की चिंता से परेशान हो जाती हैं, ऐसे में अचानक आए मेहमानों की आवभगत किस प्रकार की जाए? आइए, हम आपको बताएं कुछ ऐसे आसान नुस्खे कि अचानक मेहमानों के आने पर आप परेशान भी न हों आपके मेहमान भी खुश हों तथा आपकी पाक- कला की तारीफ किए बिना भी रहा ना जाए।

मेहमानों में बच्चे भी हो सकते हैं, यदि खाना मसालेदार बना है तो उसमें थोड़ा- सा मथा हुआ दही या टमाटर प्यूरी डालकर, थोड़ी- सी चीनी भी मिलाएं।

यदि आप रोजाना जो बनाती हैं साधारणतया, वही खाना तैयार रखा है, तो सब्जियों में देगी मिर्च, चाट मसाला व कसूरी डाल कर तेज गर्म कर लें, सब्जियों की लज्जत बढ़ जाएगी। साथ में सलाद, दही, अचार, नमकीन भी रख दें।

यदि चावल उबले हुए रखे हैं, तो आपके पास फ्रीज में जो मौसमी सब्जियां हों उन्हें तरका लगाकर मसाला मिलाएं तथा चावल मिलाकर गर्म कर लें, आपका पुलाव तैयार है।

फ्रिज में जो भी फल रखे हैं, उड़े काटकर उन पर पिसी चीनी तथा शहद डालकर फ्रिज में रख दें। स्वीट डिश तैयार है।

यदि रेशेदार सब्जी कम पड़ रही हो, तो तुरंत ही टमाटर, प्याज या दही की ढेर सारी ग्रेवी बनाकर सब्जी को डबल फ्राई कर लें।

तवे पर तेज या हल्के मसाले का मोटा चीला बनाकर, उसके छोटे- छोटे टुकड़े करके दही में डालें, रायता तैयार है।

थोड़ा पानी उवालें। उबलते पानी में रिफाइंड तेल और लाल मिर्च डालकर खूब पका लें। अब तैयार रखी सब्जी को इसमें डाल कर मिला दे तथा अच्छी तरह पका लें। रंगतदार सब्जी तैयार है।

आलुओं को तल कर, तेज मसाले तथा ढेर सारी ग्रेवी का छोंक लगाकर सब्जी बनाएं।

यदि आलू की सुखी सब्जी बना रखी है, तो तेल में जीरा डालकर अदरक, प्याज, टमाटर व हरी मिर्च डालें। आधा चम्मच लाल मिर्च, धनिया पाउडर, करी मसाला व कसूरी मेथी डालकर सब्जी छौंक दें। आवश्यकतानुसार पानी डालकर पका लें। हरे धनिए से सजाकर परोसें।

मिर्च, दही व मसाले की गरमा-गरम ग्रेवी बनाएं। सर्व करते समय मोटे सेव डालकर खिलाएं।

चिवड़े को मैश करके उसमें एक उबला आलू, प्याज व हरी मिर्च, हरा धनिया डालकर कटलेट बनाएं।

बची हुई सूखी सब्जियों को मैश करके तथा ब्रेड चूरा मिलाकर, बेसन के घोल में लपेट कर, कोफ्ते तैयार कर सकते हैं।

दूध में चीनी डालकर एक उबाल दें, थोड़े- से पोहे भीगोकर, उनका पानी निकालकर दूध में डाल दे, कॉर्न फ्लेक्स तथा इलाइची पाउडर डालकर एक उवाल देकर उतार लें, चाहे तो मेवे सजा कर परोसें। झटपट’ स्वीट डिश’ तैयार है।

Also Read : क्या आप जानते हैं फ्रिज में आटा रखने से नेगेटिव एनर्जी यानी भूत-प्रेत आते हैं!

दूध में चीनी डालकर उबालें तथा उससे आटा गूंथ लें। रेशेदार या मसालेदार सब्जी, अचार के साथ गरमा-गरम मीठी पूरियां परोसें।

पापड़ों को भूनकर( सेक लें) व कूटकर उसमें मनचाहे मसाले मिलाएं । आटे की लोई में मिश्रण भरें और गरमा -गरम परांठे दही के साथ खिलाएं।

वड़ियों की सब्जी बनाइए ।

दूध को फाड़ कर तुरंत पनीर जमाएं। अब चाहें तो पनीर के परांठे बनाएं या पनीर की मिठाई बना लें या फिर पनीर तलकर ग्रेवी डालकर, शाही पनीर की सब्जी तैयार करें।

यदि ब्रेड का पैकेट हो तो, ब्रेड के पकोड़े या रोल बनाएं। ब्रेड को भिगोकर तथा मसलकर, उन्हें दही -बड़े के आकार में गोल बनाकर, प्लेट में रखें तथा दही व मसाले डालकर (दही -बड़े )तैयार करें।

Also Read : क्विक टिप्स : कैसे आप सब्जियों को लंबे समय तक सुरक्षित रख सकते है

बची हुई चासनी में नमक, काला नमक, लाल व काली मिर्च, अमचूर, भूना जीरा व चाहें तो इमली का गुदा या अमचूर डालकर, गैस पर अच्छी तरह उवाले। आपकी खट्टी -मीठी चटनी तैयार है।

यदि आटा गुंथा हुआ तैयार रखा है, तो तुरंत ही गरमा- गरम पुरियां उतारें। आलू की ग्रेवी वाली सब्जी बना लें या चाहें तो कुकर में भी एक सिटी लेकर सब्जी तैयार कर लें। दही को घोलकर मसाले मिलाएं और फ्रिज में उपलब्ध कोई भी सब्जी या फल, उबालकर या काटकर मिलाएं। रायता तैयार है।


Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

log in

reset password

Back to
log in