‘सुहागरात’ पर इन गलतियों से हसीन पलों के आनंद से वंचित होना पड़ सकता है.


'सुहागरात' पर इन गलतियों से हसीन पलों के आनंद से वंचित होना पड़ सकता है.
'सुहागरात' पर इन गलतियों से हसीन पलों के आनंद से वंचित होना पड़ सकता है.

सुहागरात पर इन गलतियों से हसीन पलों के आनंद से वंचित होना पड़ सकता है : ‘सुहागरात’ शब्द सामने आते ही लड़के-लड़कियों के दिलोदिमाग में तरह-तरह की ख्वाब और कल्पनाएं उड़ान भरने लगती हैं. युवावस्था की दहलीज पर कदम रखते ही हर एक व्यक्ति के मन में इससे जुड़े खयाल आने लगते हैं. हालाँकि इस सोच में कुछ भी गलत नहीं है लेकिन गलतियों की शुरुआत तब होती है, जब सुहागरात के मौके पर ही कुछ लोग जाने अनजाने में कुछ ऐसा कर गुजरते हैं, जिससे उन्हें यादगार लम्हों और हसीन पलों के आनंद से वंचित होना पड़ जाता है.

Suhagrat Par In Galtiyon se Hasin Palon ke Aanand se Vanchit Hona Pad Sakta Hai

दोस्तों, आगे ऐसी 10 गलतियों को हमने इस आर्टिकल में शामिल किया है, जिससे दूर रहकर सुहागरात और दांपत्य जीवन में मधुर रस घोला जा सकता है.

 

1. सुहागरात के दिन बिना पार्टनर की सहमति के यौन सम्बन्ध ना बनाये : Suhagrat, Bina Partner ki Sehmati ke Yaun Sambandh Naa Banaye

आमतौर पर लोगों के अवधारणाएं है की सुहागरात वाले दिन सेक्स यानि यौन सम्बन्ध बनाना जरुरी होता है. ज्यादातर लोग सुहागरात को सेक्स करना चाहते हैं. दोस्तों ऐसा जरूरी नहीं है कि उसी रात ( सुहागरात ) सेक्स संबंध कायम किया जाए. जब दोनों पार्टनर इसके लिए राजी हों, तभी वैसा करें. अगर आप दोनों में से कोई भी किसी कारणवश सेक्स करने के लिए तैयार न हो, तो इसके लिए जोर-जबरदस्ती या फाॅर्स ( बलपूर्वक ) बिलकुल भी न करें. दोस्तों आप दोनों पति पत्नी है और ऐसा तो है नहीं की शादी के बाद सेक्स होगा ही नहीं. तोड़ा संयम बरते और शुरूआती दिनों में एक दूसरे को समझने पर ज्यादा ध्यान दे.

 

2. सुहागरात वाले दिन यौन संबंध बनाने में जल्दीबाजी ना दिखाएं : Suhagrat, Yaun sambandh Banane Me Jaldibaji Naa Dikhayen

आमतौर पर सुहागरात से पहले लड़के-लड़कियों को एक-दूसरे के शरीर की अच्छी तरह से जानकारी नहीं होती है. जब वे पहली बार खुला जिस्म देखते हैं, तो आपा खोकर इस काम में जल्दीबाजी करने लगते हैं. इस तरह की छोटी छोटी वजहों से वे उस परम-आनंद से वंचित रह जाते हैं, जिसकी उन्हें जरुरत होती है. बिना फोरप्ले किए कोई भी लड़की सेक्स के लिए जिस्मानी तौर पर तैयार नहीं होती है.

 

3. सुहागरात वाले दिन रक्तस्राव की आशंका से घबराएं नहीं : Suhagrat, Raktshrav ki Aashanka se Ghabraye Nahi

सुहागरात चाहे किसी महिला के लिए शारीरिक संबंध का पहला ही अनुभव क्यों न हो, रक्तस्राव होना जरूरी नहीं है. आम तौर पर हैमेन जो एक तरह की झिल्ली होती है वो किसी अन्य शारीरिक काम के दौरान पहले ही नष्ट हो गई होती है, इसलिए रक्तस्राव की आशंका और ग़लतफ़हमी से डरना गलत है.

 

4. किसी कारण से सुहागरात वाले दिन अपने जीवनसाथी पर शक ना करें : Suhagrat, Jivansathi per Shak Naa Karen 

हालांकि कई बार लोग सुहागरात को अपने जीवनसाथी को शक भरी निगाहों से भी देखते हैं. इससे वे उन हसीन लम्हों का मजा तो किरकिरा कर ही लेते है, साथ ही साथ रिश्ते की बुनियाद भी कमजोर पड़ जाती है. बेहतर यही होगा की, दोनों एक-दूसरे के अतीत की गहरायिओं में ना जा कर, पुरानी बातें न कुरेदकर, जो जीवन आपके सामने है, उसे सजाने-संवारने की कोश‍िश करें.

 

5. सुहागरात का पूर्ण आनंद, आकार से सेक्सुअल पावर का कोई तनाव ना पालें : Suhagrat, Aakaar se Sexual Power Ka Koi Tanav Naa Palen 

यह सोचना सरासर है कि पुरुष के लिंग के आकार से सेक्सुअल पावर का पता लगाया जा सकता है. शारीरिक संबंध का आनंद जोड़ों के खुशनुमा मिजाज, उनके नजरिए और जिंदादिली पर निर्भर करता है. आकार सेक्सुअल रिलेशनशिप में ना के बराबर असर डालता है. सेक्सुअल पावर लिंग के आकार पर निर्भर नहीं करता है. दोस्तों इसलिए सुहागरात के समय इस तरह का कोई तनाव न पालें.

 

6. सुहागरात वाले दिन, शराब आदि का सेवन ना करें : Suhaagraat, Sharab ka Shevan Naa Karen

कुछ लोगों की सोच होती है कि अगर वे सुहागरात को शराब आदि के सेवन से उनके भीतर जोश पैदा हो जाएगा. और बेड पर अच्छा परफॉर्म कर पाएंगे. यह सोच बिलकुल गलत है क्योंकि जोश के लिए सही मानसिक नजरिया ही काफी होता है. वैसे भी शराब की गंध और बहके हुए व्यवहार से जीवनसाथी को तकलीफ ही उठानी पड़ सकती है.

 

7. सुहागरात वाले दिन, कंडोम के इस्तेमाल पर आपसी सहमति बना ले : Suhagraat, Condom Ke Istemal Par Aapsi Sehmati Bana Le 

दोस्तों, बेहतर तो यही होगा कि दोनों पार्टनर आपस में बातचीत करके पहले ही तय कर लें कि सेक्स के वक्त कंडोम का इस्तेमाल करना है या नहीं. अगर आपने बच्चे को लेकर फिलहाल कोई योजना नहीं बनायीं हो तो कंडोम का इस्तेमाल करना न भूलें.

 

8. सुहागरात वाले दिन पीरियड्स की डेट ना भूलें : Suhagrat, Periods ki Date Naa Bhulen

पीरियड्स की डेट भूलने पर लड़कियों को सुहागरात के दौरान तकलीफ उठानी पड़ सकती है. और जो लड़के सुहागरात पर संबंध कायम करने को बैचैन रहते हैं, उन्हें निराश होना पड़ सकता है. यदि किसी लड़की के पीरियड का डेट मैच कर रहा हो तो वे डॉक्टर की सलाह से वैसी गोलियां ले लें, जिनसे डेट को कुछ दिन आगे बढ़ कर आप सुहागरात का पूर्ण आनंद ले पाएं.

 

ये भी पढ़े : सुहागरात कैसे मनाए, कैसे सुहागरात का पूर्ण आनंद ले सकते हैं
ये भी पढ़ें : द्रोपदी की सुहागरात

 

9. सुहागरात के दिन, शरीर की साफ-सफाई को नजरअंदाज ना करें : Suhagrat, Sharir ki Saaf-Safai Ko NajarAndaj Naa Karen

सुहागरात के दिन दोनों पार्टनर अपने शरीर की साफ-सफाई का खास खयाल जरूर रखें. पहली रात को यादगार बनाने में कोई भी ऐसी कोर-कसर न छोड़े, जिससे शरीर के प्रति‍ पार्टनर के मन में किसी तरह की अरुचि पैदा हो. अपने शारीरिक आकर्षण के लिए डियो आदि का इस्तेमाल कर सकते है.

 

10. सुहागरात केवल दो जिस्मों का मिलन भर नहीं है : Suhagrat Kewal Do Jism Ka Milan Bhar Nahi Hai

सुहागरात केवल दो जिस्मों का मिलन भर नहीं, अगर आप भी यही मानते है तो ये भारी भूल होगी. यह वो सुनहरा अवसर होता है, जब एक-दूसरे से भावनात्मक तौर पर अच्छी तरह जुड़ा जा सकता है. इस मौके पर व्यवहार में सौम्यता बरतकर, पार्टनर को अच्छे से जानकर उनके के दिल पर गहरी छाप छोड़ी जा सकती है.


Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

log in

reset password

Back to
log in