चाइनामैन गेंदबाज या चाइनामैन क्या है ?


चाइनामैन गेंदबाज या चाइनामैन क्या है ?
चाइनामैन गेंदबाज या चाइनामैन क्या है ?

भारत के नये स्पिनर कुलदीप यादव चाइनामैन गेंदबाज है। कुलदीप एशिया महाद्वीप के दूसरे चाइनामैन गेंदबाज हैं। इनसे पहले श्रीलंका के लक्षण रंगिका ने जुलाई 2016 में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध डेब्यू किया था। चाइनामैन शब्द एक बार फिर से चर्चा में है, क्योंकि इस शब्द के आने के साथ ही ट्विटर पर लोग इसके बारे में लगातार ट्वीट कर रहे हैं। इतना ही नहीं गूगल पर भी काफी संख्या में लोग chinaman bowler , What is chinaman bowler ,  chinaman bowlers , kuldeep yadav जैसे शब्द टाइप कर चाइनमैन बॉलिंग के बारे में जानकारी ढूंढते दिख रहे हैं। चाइनामैन क्या होता है इसको लेकर सवाल किये जा रहे हैं। क्रिकेट प्रेमियों की सहूलियत के लिये में यहां पर चाइनामैन की संक्षिप्त कहानी दे रहा हु उम्मीद है आपको पसंद आएगी।

‘चाइनामैन’ गेंदबाज की कहानी : Chinaman bowler Story in Hindi

एक थे एलिस आचोंग। चीनी मूल का पहला टेस्ट क्रिकेटर। वह वेस्टइंडीज की तरफ से खेलते थे, लेकिन उनकी खासियत यह थी कि वह थे तो बायें हाथ के स्पिनर लेकिन उनकी गेंद दायें हाथ के बल्लेबाज के लिये आफ से लेग की तरफ टर्न होती थी। बात 1933 की है। इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच ओल्ड ट्रैफर्ड में मैच चल रहा था। एलिस आचोंग ने अपनी इसी तरह की एक गेंद पर इंग्लैंड के बल्लेबाज वाल्टर रोबिन्स को स्टंप आउट करा दिया।

कहा जाता है कि जब रोबिन्स पवेलियन लौट रहे थे तो उन्होंने अंपायर से कहा, ”ब्लडी चाइनामैन ने क्या चकमा दिया।” बस तभी से इंग्लैंड में यह शब्द लोकप्रिय हो गया और धीरे धीरे क्रिकेट से जुड़ गया। बायें हाथ से लेग स्पिन करने वाले गेंदबाजों को ‘चाइनामैन’ कहा जाने लगा।

वैसे दक्षिण अफ्रीका के आलराउंडर चार्ली बक लेवलिन ने दावा किया था कि सबसे पहले इस तरह की गेंदबाजी उन्होंने की थी। दुनिया ने बहुत कम चाइनामैन गेंदबाज देखें हैं। चक फ्लीटवुड स्मिथ से लेकर और हाल के दिनों में पाल एडम्स, ब्रैड हाग, डेव मोहम्मद। वेस्टइंडीज के महान आलराउंडर गैरी सोबर्स भी कभी कभार इस तरह से गेंदबाजी करते थे।

अब भारत को भी अपना पहला चाइनामैन गेंदबाज मिल गया है कुलदीप यादव, जो धर्मशाला में आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के छक्के छुड़ा रहा है। कुलदीप को शुभकामनाएं।


Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

log in

reset password

Back to
log in